सपा नेता के घर मिला 150 करोड़ कैश,मशीन से भी पूरी नही हो पाई गिनती - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / ताज़ा खबरें / सपा नेता के घर मिला 150 करोड़ कैश,मशीन से भी पूरी नही हो पाई गिनती

सपा नेता के घर मिला 150 करोड़ कैश,मशीन से भी पूरी नही हो पाई गिनती

आप सभी ये तो जानते ही होंगे की कालाधन रखना कानूनन अपराध है और सरकार से टैक्स चोरी करना भी अपराध है लेकिन हमारे देश में बहुत से ऐसे लोग है जो सरकार से टैक्स चोरी करते है और रकम को छुपा कर रखते है ऐसा ही एक मामला समाजवादी पार्टी के नेता एवं इत्र व्यापारी  का है जिनके घर से 150 करोड़ रुपए नगद काले धन के रूप में बरामद हुए है । इतनी बड़ी रकम नकद घर पर मिलने से आईटी टीम के होश उड़ गए हैं। टीम ने नोट गिनने के लिए लगभग अध दर्जन मशीनें मंगवाई, लेकिन वो भी पूरा पैसा गिनने के लिए कम पड़ गईं । गुरुवार की दोपहर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने सपा नेता पीयूष जैन के घर छापा मारा था। यहां बड़े-बड़े कार्टून में नोटों के बंडल भरे थे। ज्यादातर नोट 2-2 हजार रुपए के थे। जानकारी के लिए आपको बता दे कि  पीयूष जैन  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बेहद करीबी रहे  है । इन्होंने कुछ हफ्ते पहले ही समाजवादी इत्र लॉच किया था। आईटी टीम की ओर से जारी तस्वीरों में दिख रहा है कि आलमीरा में नोटों का बंडल बनाकर रखा था।

आधा दर्जन से अधिक मशीनों से भी नोट गिनने में आईटी टीम की आधी रात बीत गई। देर रात तक टीम 40 करोड़ रुपए ही गिन पाई है। शेष नोटों की गिनती आज होगी। आईटी अधिकारियों का अनुमान है कि 150 करोड़ से ज्यादा नगद रकम है। नोट को गिनने के लिए एसबीआई के अधिकारियों को भी बुलाया गया है। वो लोग नोट गिनने में मदद करेंगे।

जानकारी के मुताबिक सपा नेता पीयूष जैन की 40 कंपनियां हैं। इनमें कई शैल कंपनियां भी हैं। इनके जरिए टैक्स चोरी हुई है। कन्नौज में इत्र बनता है और मुंबई में शोरूम है, जहां से इत्र देश-विदेशों में भेजा जाता है। दरअसल, एक दिन पहले शिखर पान मसाला के कारोबारी केके अग्रवाल के यहां आईटी का छापा पड़ा था। वहीं, टीम को सूचना मिली की पीयूष जैन और केके अग्रवाल ने मिलकर करोड़ों की टैक्स चोरी की है। पीयूष मूलरूप से कन्नौज के छिपत्ती के निवासी हैं। उनका वहां घर, कोल्ड स्टोर, पेट्रोल पंप और इत्र की फैक्ट्री है। इत्र की फैक्ट्री का हेड ऑफिस मुंबई में है। ऐसे में आयकर विभाग की मुंबई टीम ने एक साथ कानपुर, मुंबई और कन्नौज के ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की है। पीयूष की 2 कंपनियां मिडिल ईस्ट में भी हैं

About arun

Leave a Reply

Your email address will not be published.