बॉलीवुड के मशहूर 9 सितारे जिन्होंने अपने करियर की ऊँचाइयों पर पहुँच कर फ़िल्म इंडस्ट्री को कहा अलविदा - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / बॉलीवुड / बॉलीवुड के मशहूर 9 सितारे जिन्होंने अपने करियर की ऊँचाइयों पर पहुँच कर फ़िल्म इंडस्ट्री को कहा अलविदा

बॉलीवुड के मशहूर 9 सितारे जिन्होंने अपने करियर की ऊँचाइयों पर पहुँच कर फ़िल्म इंडस्ट्री को कहा अलविदा

मित्रों जैसा की आप सभी अवगत ही होगें कि इस फिल्म इंड्रस्टी में कई ऐसे एक्टर्स हुये है जो अपने बेहतरीन अभिनय के दम पर दशर्को के दिलों पर आज भी राज कर रहे है। हालाकि कुछ ऐसे भी एक्टर्स है, जो मौजूदा समय में गुमनामी की जिन्दगी व्यतीत कर रही है, तो वहीं कई महान कलाकार ऐसे में है जो फिल्मी दुनिया को हमेशा के लिये अलविदा कह दिया। हालाकि ऐसी क्या वजह होती होगी कि इंसान कई साल के बनाए अपने करियर को एकदम से अलविदा कह देता है? आज हम 9 ऐसे ही महान कलाकारों के संबंध में बताने वाले है, जो अपने करियर की बुलन्दियो पर फिल्म इंडस्ट्री को हमेशा के लिये अलविदा कह दिया है। वो कुछ इस प्रकार से है…,,सलमान के कारण इंडस्ट्री से बाहर हो गए राजा बाबू  गोविंदा

विनोद खन्ना : विनोद खन्ना भले ही इस दुनिया में ना रहे हों लेकिन अपनी फिल्मों के माध्यम से उनकी अदाकारी आज भी लोगों के ज़हन में ज़िंदा है, उनके पिता उनके फिल्मों में काम करने के खिलाफ थे लेकिन फिर भी वह फिल्मी दुनिया में आए, एक खलनायक के रूप में अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले विनोद खन्ना ने अपने अभिनय के दम पर सफलता प्राप्त की, एक समय ऐसा था जब अमिताभ से ज़्यादा लोकप्रिय थे विनोद खन्ना, कामयाबी के शिखर पर पहुंच कर उन्होंने अचानक से ही सांसारिक मोह माया त्याग दी और ओशो की शरण ले ली, उनका इस तरह से फिल्म जगत को अलविदा कहना उस समय हर किसी के लिए आश्चर्य की बात थी, सफलता की ऊंचाईयों को छोड़ कर वह ओशो के आश्रम में माली से लेकर और अन्य कई छोटे मोटे काम तक करते थे, हालांकि, विनोद खन्ना कुछ साल बाद फिर से फिल्मी दुनिया में लौट आए थे, मगर पहले जितने असरदार नहीं रहे।

कुमार गौरव : कुमार गौरव हिंदी सिनेमा के जाने माने अभिनेता रहे राजेंद्र कुमार के पुत्र हैं, इनकी शादी संजय दत्त की बहन नम्रता दत्त से हुई, लव स्टोरी जैसी हिट फिल्म से अपने करियर की शुरुआत करने वाले कुमार गौरव ने तेरी कसम, नाम और स्टार जैसी हिट फिल्में दीं, टेलीविजन फिल्म जनम के लिए उन्हें नेशनल अवार्ड के लिए नामांकित किया गया, इन्होंने अपने करियर में कुल 33 फिल्में कीं, करियर अच्छा चला फिर कुछ उतार चढ़ाव आए, 1993 में माधुरी दीक्षित के साथ फूल फिल्म करने के बाद कुमार गौरव ने एक्टिंग से ब्रेक ले लिया, इसके बाद वह 1996 तथा 99 में दो फिल्मों और कुछ धारावाहिकों में नज़र आए, 2000 में गैंग फिल्म से वापसी करने की कोशिश की तथा 2002 में कांटे फिल्म में अभिनय किया, गौरव ने अपने करियर में एक अमेरिकन फिल्म भी की है, यह फिल्म 2004 में गुआना 1838 नाम से रिलीज़ हुई थी, कुमार गौरव ने 2006 में अपनी अंतिम फिल्म की, जिसका नाम था माई डैडी स्ट्रांगेस्ट, इसके बाद इन्होंने बॉलीवुड से किनारा कर लिया तथा बिज़नेस लाइन में आ गए, अभी इनकी मालद्विव में ट्रैवल कंपनी है, राजेंद्र कुमार, सुनील दत्त तथा संजय दत्त जैसे दिग्गज अभिनेताओं की छत्रछाया में रहने के बाद भी कुमार गौरव कुछ खास हासिल ना कर पाए फिल्म जगत से और अंत में उन्हें ये रास्ता छोड़ना ही पड़ा।

अनु अग्रवाल : अनीता अग्रवाल उर्फ अनु अग्रवाल नाम से शायद बहुत से लोग परिचित ना हों लेकिन जब अशिक़ी गर्ल कहा जाए तब हर किसी को इस नाम और चेहरे की पहचान हो जाएगी, जी हां हम बात कर रहे हैं पुरानी वाली अशिक़ी फ़िल्म की अभिनेत्री अनु अग्रवाल की, अपनी पहली अशिक़ी से लोगों के दिलों पर छा जाने वाली अनु का जीवन एकदम बेफ़िक्रों वाला था, वह पब्लिक में खड़ी हो कर सिगरेट पीती थीं, हालांकि फिल्में ज़्यादा नहीं मिलीं मगर फिल्मों से नाता नहीं टूटा था, 1996 में अपनी आखिरी फिल्म दी रिटर्न्स ऑफ़ ज्वैल थीफ करने के बाद उनका रुझान ट्रेवलिंग और योग की तरफ ज़्यादा रहने लगा, लेकिन 1999 में उनकी ज़िंदगी एकदम से बदल गई, उनका एक खतरनाक कार एक्सिडेंट हुआ, बहुत सारी गंभीर चोटें आईं, 29 दिनों तक कोमा में रहीं, और जब पूरी तरह ठीक हो कर लौटीं तो उन्होंने सन्यास लेने का फैसला कर लिया, इसके बाद से तो उनके जीवन में सिर्फ़ अध्यात्म और योग ही हैसुशांत से लेकर दीपिका पादुकोण तक ये है 10 बॉलीवुड सितारों के हमशक्ल, दीखते है हुबहू एक जैसे,कोई नही पहचान सका

ज़ायरा वसीम : इस लड़की ने छोटी सी उम्र में ही अपनी काबिलियत दुनिया को दिखा दी, दंगल में दंगल गर्ल और स्काई इज़ पिंक में एक ज़िंदादिल कैंसर पेशेंट के किरदार में इस लड़की ने सबका दिल जीत लिया, कम उम्र में ही इन्हें सीक्रेट सुपर स्टार के रूप में ऐसी फिल्म मिली जहां ये खुद मेन किरदार में थीं, सही मायनों में अभी जायरा का करियर ठीक से शुरू भी नहीं हुआ था कि उन्होंने एक दिन अचानक एक सोशल मीडिया पोस्ट कर के सबको हैरान कर दिया, ज़ायरा ने अपने धर्म के नाम पर बॉलीवुड को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया।

सोफ़िया हयात : सोफ़िया एक प्रसिद्ध मॉडल रही हैं, सितंबर 2013 में एफ एच एम मैगज़ीन ने दुनिया की सबसे ज़्यादा कामुक औरतों की सूची तैयार की थी, इस सूची में सोफिया 81वें पायदान पर थीं, इसके अलावा सोफिया बिग बॉस के 7वें सीज़न में भी नज़र आ चुकी हैं, इन्होंने कुछ एक फिल्मों में भी काम किया था संभव था कि ये आगे अपना करियर बना सकती थीं लेकिन 2016 में सोफिया ने अचानक ही ये एलान कर दिया कि वह अब अध्यात्म के मार्ग पर चलेंगी, इसके बाद सोफिया नन बन गईं, उन्होंने अपना नया नाम रखा सोफिया मदर।

मयूरी कांगो : मयूरी कांगो 90 के दशक की जानीमानी अभिनेत्री रही हैं, उनकी पहली ही फिल्म पापा कहते हैं बॉक्स ऑफिस पर हिट रही थी, इसके अलावा उन्होंने बेताबी, होगी प्यार की जीत, पापा दी ग्रेट तथा बादल जैसी फिल्मों में भी अभिनय किया है, मयूरी नेशनल अवार्ड विनिंग फिल्म नसीम में भी अभिनय कर चुकी हैं, हिट फिल्मों तथा कई सिरियलों में अभिनय करने के बावजूद मयूरी ने 2003 में फिल्म जगत को अलविदा कह दिया, उन्होंने आदित्य ढिल्लों से शादी की तथा यूएस जा बसीं, यहीं से मयूरी ने अपना एमबीए पूरा किया तथा फिर वह फिल्मी दुनिया को छोड़ व्यापार जगत का हिस्सा बन गईं।

हरमन बावेज : हरमन बावेजा ने बड़ी उम्मीदों के साथ हिंदी फिल्म जगत में कदम रखा था लेकिन एक के बाद एक लगातार 4 फिल्में फ्लॉप होने के बाद शायद वह आगे बढ़ने का हौसला ना जुटा सके, जानेमाने फिल्म निर्देशक हैरी बावेजा के पुत्र होने के बावजूद उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में कोई खास पहचान ना मिल सकी, उनकी पहली फिल्म लव स्टोरी 2050 के साथ उनका प्रेम प्रियंका चोपड़ा के साथ परवान चढ़ा लेकिन व्हट्स योर राशि के साथ दोनों के बीच दूरियां आ गईं, हरमन ने अपनी अंतिम फिल्म ढिश्केयाओं की और उसके बाद उन्होंने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया।

बरखा मदान : बरखा मदान टीवी से लेकर फिल्मों तक में अभिनय कर चुकी हैं, इसके साथ ही वो दो फिल्मों की प्रोड्यूसर भी रह चुकी हैं, उनकी ज़िंदगी में ऐसी कोई दिक्कत नहीं थी जिससे उनका फिल्मी दुनिया से मोह भंग हो जाता लेकिन इसके बावजूद उन्होंने बौद्ध धर्म अपनाने का मन बनाया और एक नन बन गईं, 2002 में धर्मशाला में एक इवेंट के दौरान जब उन्होंने दलाई लामा जोपा रिपोंचे को सुना उनके बाद से उनके मन में नन बनने का खयाल आया, 10 साल तक सोचने विचारने के बाद 2012 में बरखा काठमांडू स्थित बौद्ध मठ में बौद्ध धर्म अपनाते हुए नन बन गईं, 4 नवंबर 2012 को बरखा ने संन्यास ले लिया, 1994 में मिस इंडिया  की प्रतियोगी तथा अपनी फिल्म के लिए विदेश में पुरस्कार जीत चुकी बरखा अब फिल्मी दुनिया की चकाचौंध से दूर अपना समय धर्मशाला में मेडिटेशन करते हुए या फिर बौद्ध गया के तारा चिल्ड्रेन प्रोजेक्ट में HIV ग्रस्त बच्चों की सेवा करते हुए बिताती हैं।

आयशा टाकिया : आयशा 5 साल की उम्र में पहली बार कॉम्पलैन के एड में नज़र आईं, 15 की उम्र में एक मुख्य अभिनेत्री के तौर पर पहली फिल्म की, वांटेड, नो स्मोकिंग और संडे जैसी फिल्मों में नामी फिल्मी सितारों के साथ काम करने वाली इस अभिनेत्री ने महज 23 साल की उम्र में अभिनय और बॉलीवुड को अलविदा कह दिया, आयशा ने 2009 में अपने ब्वायफ्रेंड फरहान के साथ शादी कर ली और 2013 में एक बेटे की मां बन गईं, शादी के बाद से आयशा दोबारा कभी फिल्मी पर्दे पर नहीं दिखीं, अभिनय के क्षेत्र में सफलता की चोटी तक पहुंच कर उनका इस तरह से बॉलीवुड को अलविदा कहना उनके फैंस के लिए हैरान कर देने वाली खबर थी।

About Rinku

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *