अनोखी है डिंपल चीमा की प्रेम कहानी,विक्रम बत्रा के शहीद होने के बाद आज तक है कुवारी - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / ज़रा हटके / अनोखी है डिंपल चीमा की प्रेम कहानी,विक्रम बत्रा के शहीद होने के बाद आज तक है कुवारी

अनोखी है डिंपल चीमा की प्रेम कहानी,विक्रम बत्रा के शहीद होने के बाद आज तक है कुवारी

प्यार एसी चीज़ है जो किसी को भी कभी भी किसी से भी हो जाता है. आजकल तो सबने प्यार को मजाक बना रखा है. आज किसी से तो कल किसी से एक समय था जब सच्चा प्यार हुआ करता था.जिसमे कोई छल कपट नही होता था एक -दुसरे पर विशवस होता था निस्वार्थ प्रेम था .आज के समय में ऐसे प्यार की बात करे तो कोई विशवास नही करेगा. आज के इस लेख में हम आपको ऐसी ही सच्चे प्यार की खानी सुनाने वाले है.कैप्टन विक्रम जो कारगिल युद्ध में शहीद थे उनकी और उनकी मंगेतर डिम्पल चीमा के प्यार की कहानी है . इस कहानी से आपको पता चलेगा कि सच्चा प्यार होता क्या है .

कारगिल युद्ध के हीरो कैप्टन विक्रम बत्रा के जीवन पर बनी फिल्म शेरशाह को देखकर फैंस भावुक हो गए. यह फिल्म लोगों को काफी पसंद आ रही है. फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी ने लीड रोल निभाया है. इस फिल्म में कारगिल युद्ध के साथ-साथ विक्रम बत्रा और डिम्पल चीमा की प्रेम कहानी भी दिखाई गई है.

कैप्टन के शहीद होने के बाद भी आजतक डिम्पल चीमा ने शादी नहीं की है और वे एक विधवा की तरह जिंदगी जी रही हैं, उन्हें अपने प्यार पर गर्व है. उनका कहना है कि ऐसा लगता है कि वे कहीं दूर जंग पर हैं. ऐसा कोई दिन नहीं जब मुझे यह लगे कि वो मेरे साथ नहीं है. जबकि ऐसा महसूस होता है कि हम अलग हुए ही नहीं है. सोचिए किसी के ना होने पर भी उसकी यादों के साथ उसे प्यार करना कैसा होता होगा?

फिल्म शेरशाह की तरह ही कैप्टन विक्रम और डिंपल की मुलाकात कॉलेज के दिनों में हुई थी. दोनों चंडीगढ़ में पंजाब यूनिवर्सिटी में पढ़ते थे. दोनों क्लासमेट थे. दोनों में पहले दोस्ती हुई फिर प्यार हो गया. हर प्रेम कहानी की तरह पहले डिंपल के घरवालों को उनका रिश्ता मंजूर नहीं था. इसके बाद भी दोनों ने एक साथ रहने का वादा किया. डिंपल अपने प्यार के लिए परिवार से अड़ी रहीं.

दोनों अक्सर साथ में मनसा देवी मंदिर दर्शन करने जाया करते थे. एक बार मंदिर में कैप्टन ने डिंपल का दुपट्टा पकड़े हुए परिक्रमा किया. उनके अनुसार यह उनकी शादी थी. डिम्पल के अनुसार, कैप्टन विक्रम ने तब कहा था ‘बधाई हो मिसेज बत्रा’ क्या आपको नहीं पता कि ये चौथी बार है जब हम मंदिर की परिक्रमा कर रहे हैं. हमारी शादी हो गई…

डिंपल ने एक कहा था कि, विक्रम ने उनसे लगभग शादी कर ही ली थी. एक बार वे दोनों शादी के बारे में बातें कर रहे थे तभी उन्होंने अपने पर्स से एक ब्लेड निकाला और अपना अंगूठा काटकर उनकी मांग भर दी. जीवन के इस पल को वे अब तक नहीं भूल पाई हैं. यह डिम्पल के जीवन की सबसे कीमती पल था. वो आज भी खुद को कैप्टन से अलग नहीं कर पाईं हैं.

डिम्पल कहती हैं कि ‘जब लोग विक्रम की उपलब्धियों के बारे में बात करते हैं तो मुझे बहुत गर्व होता है लेकिन दिल के एक कोने में इस बात का अफसोस हमेशा होता है कि काश वो रहते और अपनी वीरतापूर्ण कहानियों को सुनते. मुझे पता है, मेरा दिल जानतता है कि हम फिर से मिलने जा रहे हैं, बस समय की बात है’.

डिम्पल एक स्कूल में पढ़ाती हैं और गर्व से कहती हैं कि हां मैं कैप्टन विक्रम बत्रा से प्यार करती थी, करती हूं और करती रहूंगी…सच में सच्चा प्यार के मामले में कैप्टन की प्रेम कहानी भी हीरो है. प्रेम में ऐसा समपर्ण प्रेमियों के लिए प्रेरणा है…

इस लेख में लेखक ने अपने निजी विचार व्यक्त किए हैं.ये जरूरी नहीं कि ओनली इंटरटेंन्मेंट उनसे सहमत हो. इस लेख से जुड़े सभी दावे या आपत्ति के लिए सिर्फ लेखक ही जिम्मेदार है.

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *