विवेक अग्निहोत्री को आया धमकी भरा खत,कश्मीरी पंडितो के हमदर्द नरक भेजे जायेगे,मोदी या अमित शाह कोई नही बचा पायेगा - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / बॉलीवुड / विवेक अग्निहोत्री को आया धमकी भरा खत,कश्मीरी पंडितो के हमदर्द नरक भेजे जायेगे,मोदी या अमित शाह कोई नही बचा पायेगा

विवेक अग्निहोत्री को आया धमकी भरा खत,कश्मीरी पंडितो के हमदर्द नरक भेजे जायेगे,मोदी या अमित शाह कोई नही बचा पायेगा

मित्रों इस बात में तो कोई दो राय नही है कि द कश्मीर फाइल्स फिल्म लोगों द्वारा काफी काफी पसन्द की जा रही है, यहीं वजह है, कि इस फिल्म ने कमाई के मामले में सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले है, तो वही मौजूदा सरकार ने भी इस फिल्म को टैक्स मुक्त कर दिया है। हालाकि इस फिल्म को लेकर सोशल मीडिया पर काफी बवाल मचा हुआ है, क्योंकि ये फिल्म धारा 370 व 35A की आंड़ में हुये अत्याचारों की कहानी बतलाती है। यही वजह है कि इस फिल्म की स्टोरी से हर कोई प्रभावित हुआ है। बता दें कि कश्मीर में वर्ष 1990 में कश्मीरी हिंदुओं के साथ हुई बर्बरता की सच्ची कहानी ने दर्शकों को झकझोर कर रख दिया है। इस फिल्म के आने के बाद ही ये मुद्दा तूल पकड़ने लगा है।

आपको बता दें कि फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने घाटी में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार की अंतर्निहित सच्चाई को उजागर किया और एक बहस का मुद्दा बन गया। उदारवादियों ने इसे ‘प्रचार फिल्म’ करार दिया। अब वही निर्देशक के पास एक पत्र आया है, जिसमें कश्मीरी पंडितों को ‘घाटी छोड़ने या गंभीर परिणाम भुगतने’ की धमकी दी जा रही है। पत्र में कश्मीरी पंडितों के साथ-साथ उनके हमदर्दों को अंतिम चेतावनी देते हुए कहा गया है कि उनके फरमान की अवहेलना करने पर उन्हें मार दिया जाएगा और नरक में भेज दिया जाएगा और पीएम मोदी या अमित शाह सहित कोई भी उन्हें नहीं बचा पाएगा। लश्कर-ए-इस्लाम नाम के एक आतंकवादी समूह द्वारा ‘काफिरों को पत्र’ शीर्षक से जारी किया गया है। निर्देशक विवेक अग्निहोत्री द्वारा इसे ट्विटर पर साझा करने के बाद ट्विटर पर इसकी जोरदार चर्चा हो रही है और लोगों से कड़ी आपत्ति प्राप्त हो रही है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि ‘सभी गैर-मुसलमानों को जान से मारने की धमकी’ पत्र को साझा करते हुए निर्देशक ने उदारवादियों और छद्म धर्मनिरपेक्ष लॉबी पर भी भारी हमला किया, जिन्होंने फिल्म की मौलिकता पर उंगली उठाई और इसे महज प्रचार करार दिया। हर कश्मीरी पंडित मरेगा। फिल्म ने दुनिया के सामने कश्मीरी पंडितों के बलिदान, असहनीय दर्द और संघर्ष को उजागर किया। दूसरी ओर, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता भूपेश बघेल ने राज्य के कई मंत्रियों और विधायकों के साथ ‘द कश्मीर फाइल्स’ देखने के बाद दावा किया था कि इस फिल्म में आधी अधूरी सच्चाई ही दिखायी गई है और केवल हिंसा दिखाने की कोशिश की गयी है। निर्देशक विवेक अग्निहोत्री को ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा के तहत केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के सात से आठ कमांडो चौबीसों घंटे अग्निहोत्री की सुरक्षा करेंगे। सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से अग्निहोत्री को सीआरपीएफ की ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

अग्निहोत्री द्वारा निर्देशित फिल्म, आतंकवाद के कारण कश्मीर से पलायन करने वाले कश्मीरी पंडितों पर आधारित है। फिल्म की संवेदनशील प्रकृति को देखते हुए फिल्मकार को देश में तीसरी उच्च स्तरीय श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। अग्निहोत्री द्वारा अपनी फिल्म की रिलीज को लेकर अपनी जान का खतरा होने का दावा करने के हफ्तों बाद यह कदम उठाया गया है। निर्देशक विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है। ओहियो के सीनेटर नीरज अतानी ने कहा कि प्रशस्ति पत्र ‘कश्मीरी पंडितों के नरसंहार’ को दर्शाने वाली अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर उनके काम को सम्मानित करने के लिए दिया गया है। अतानी ओहियो के इतिहास में प्रांत के पहले भारतीय-अमेरिकी और हिंदू सीनेटर हैं। प्रशस्ति पत्र पर ओहियो सीनेट के अध्यक्ष मैट हफमैन और अतानी ने संयुक्त रूप से हस्ताक्षर किए हैं। इसमें कहा गया है, ”वास्तव में, आपने सार्वभौमिक अपील वाली एक ऐसी फिल्म बनाने की कोशिश की है, जिसमें ऐतिहासिक महत्व के मामले यानी घाटी से कश्मीरी पंडितों के जबरन पलायन को दर्शाया गया है। आपको अपनी उपलब्धियों पर गर्व होना चाहिए।” इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

About Rinku

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *