सदियों से है एक दुसरे के खून के प्यासे,सांप और नेवले की दुश्मनी की जानिए असली वजह - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / वायरल / सदियों से है एक दुसरे के खून के प्यासे,सांप और नेवले की दुश्मनी की जानिए असली वजह

सदियों से है एक दुसरे के खून के प्यासे,सांप और नेवले की दुश्मनी की जानिए असली वजह

मित्रो जैसा की सभी को पता है कि सांप और नेवले के बीच हमेशा 36 का आंकड़ा रहता है ये बात हम सभी लोग जानते है सांप और नेवले की लड़ाई के किस्से और वीडियो तो सभी लोग देखे है इसीलिए सांप और नेवले को लेकर लोगो के मन में तरह-तरह के सवाल उठते रहते है उनमे से कुछ सवाल काफी साधारण है जैसे सांप के काटने पर भी नेवला क्यों नही मरता है और क्या नेवला सांप के मुकाबले अधिक शक्तिशाली और जहरीला होता है ?आज हम आपको इन सवालों के जवाब देगे और बतायेगे कि सांप के काटने पर नेवला क्यों नही मरता है, नेवले और सांप में ज्यादा जहरीला कौन है? और इसके साथ ये भी बतायेगे सांप और नेवला एक -दुसरे के जानी दुश्मन क्यों है इन सारे सवालों के जवाब को विस्तार से जानने के लिए बने रहे लेख के अंत तक.

जाने सांप और नेवले की दुश्मनी क्यों है

बहुत प्राचीन काल की बात है कि एक समय में नेवला बहुत जहरीला हुआ करता था और वह सभी जानवरों को मारने के लिए हमेशा उत्सुक रहा करता था और जंगल के सभी जानवर उससे बहुत ही परेशान रहते थे इसीकारण से जंगल के सभी जानवर दुखी थे और एक दिन जंगल के सभी जानवर ने एक बैठक की कि कैसे नेवले से छुटकारा पाया जा सकता है बैठक के बाद सब जानवरों ने यह निर्णय ले लिया कि साप नेवले की जहर की थैली को अन्दर डाल देगा कारण यह था की जब भी नेवला खाने की तलाश में बाहर जाता है तो अपने जहर का थैला लेकर साथ में जाता था नेवला जैसे ही अपने विष का थैला बाहर निकालता है और अनाज काटने लगता है उसी समय साप को मौका मिल जाता था और वह नेवले की जहर की थैली को अपने मुह में रख लेता था और जैसे ही साप जहर की थैली को अपने मुह में रखता है तभी से ये दोनों एक दुसरे के जानी दुश्मन बन जाते है.

इसीकारण से साप और नेवले के बीच की लड़ाई में कभी साप बाजी मार लेता है तो कभी नेवला ज्यादातर तो यही देखने को में मिलता है कि नेवला साप को मार डालता है या तो उसको घायल कर देता है और बाद में जयादातर जीत नेवले की ही होती है इसीकारण से ये एक दुसरे के खून के प्यासे होते है साप और नेवला एक दुसर को सीधी तरह से भी देखना तक भी पसंद नही करते है इसकी वजह आप सब को हम बताने जा रहे है और साथ में ये भी क्लियर कर देगे कि क्या वाकई नेवले की बॉडी पर सांप के जहर का असर नहीं होता है? आप को बता दे कि वास्तविक कारण का तो कोई पता नही है लेकिन लोगो के दवारा बताया जा रहा है कि साप और नेवला आदि काल से दुश्मन है ऐसा इसलिए है की साप नेवले को मारता है ताकि नेवला जिन्दा रह सके साप नेवले को मारना चाहता है कि साप जिन्दा रह सके ऐसा इसलिए है की दोनों को जीवित रहने के लिए एक दुसरे को मारने की आवश्यकता है जिससे वे एक दुसरे घृणा से करते है जिसके कारण ये एक दुसरे के जानी दुश्मन है . अब बात करने जा रहे है इनकी दुश्मनी के असली वजह की. सांप और नेवले के बीच की दुश्मनी का असली कारण कुछ और ही है. दरअसल, सांप नेवले के बच्चे का शिकार कर लेता है. साप को नेवले के बच्चे भोजन के तौर पर काफी अच्छे लगते हैं. अपने बच्चे को बचाने के लिए नेवला सांप से भिड़ जाता है और इसी वजह से  दोनों के बीच दुश्मनी चलती रहती  है.आमतौर पर कहा गया है कि भारत में पाए जाने वाले भूरे नेवले सांप के जहर से बचे रहते हैं. लेकिन ये सच नहीं है. , क्योकि नेवलों पर जहर का असर काफी समय बाद करता है. इस वजह से लड़ाई के वक्त सांप को लहूलुहान कर नेवला बचा नजर तो आता है लेकिन थोड़ी देर बाद ज्यादातर मामलों में उसकी मौत हो जाती है. साथ ही सांप से ज्यादा फुर्तीला होने की वजह से भी नेवले को इसका फायदा मिलता है. वो अपनी फुर्ती से सांप के डंक से बचा रहता है.

अब बात करते हैं कि जहर के नेवले की बॉडी के अंदर होने वाले असर की. नेवलों की बॉडी के अंदर ख़ास एसिट्लोक्लिन रिफ्लेक्स होता है. इसकी वजह से सांप के जहर के अंदर मौजूद न्यूरोटाक्सिन से नेवला बचा रहता है. यही नेवले को बचा कर रखती है. नेवले के डीएनए में मौजूद अल्फा और बीटा ब्लॉकर्स जहर को नुकसान पहुंचाने से रोक लेते हैं. इस वजह से अगर सांप नेवले को काट भी लेता है तो अधिकतर उसकी जान बच जाती है.और आप सब की जानकारी के लिए बता दे की Shiv Mahima -Om Namah Shivay नामक एक यूट्यूब अकाउंट से यह वीडियो शेयर किया गया है । अब तक इस वीडियो को 18,631,222 से ज्यादा लोग देख चुके है। अब तक इस वीडियो को 10000 से ज्यादा लोग लाइक कर चुके है।

About savita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *