पति के नि'धन की खबर सुनते ही पत्नी ने भी त्यागे प्राण, एक साथ उठी दो-दो अर्थी - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / वायरल / पति के नि’धन की खबर सुनते ही पत्नी ने भी त्यागे प्राण, एक साथ उठी दो-दो अर्थी

पति के नि’धन की खबर सुनते ही पत्नी ने भी त्यागे प्राण, एक साथ उठी दो-दो अर्थी

मित्रो इस बात में तो कोई दो राय नही है कि इस दुनिया में ऐसी कई अजीबो गरीब घटनाये होती रहती है, जिसके चलते हम लोगों को कई दिक्‍कतों का सामना करना पड़ता रहा है, इसी क्रम में आज हम एक ऐसी घटना के संबंध में बताने जा रहे है जो कि आप सुनेगें तो आप को भी बहुत बड़ा झटका लगना तय है। दरअसल आज हम एक ऐसी महिला के संबंध में बात करने वाले है जिसे अपने पति की मौत की खबर मिलते ही उसकी भी सांसे थम गई। उसी चिता पर किया उस महिला की भी अंतिम संस्कार। खबर विस्तार से जानने के लिये पोस्ट के अंत तक बने रहे। चंद घंटो का मेहमान था पति, पत्नी ने निशानी के रूप में बच्चा चाहिए फिर पत्नी ने उठाया यह कदम

दरअसल हमारे जीवन में शादी का बहुत बड़ा महत्व है, क्योंकि शादी एक ऐसा बंधन है, जो दिलो के साथ साथ दो परिवारों को भी जोड़ता है, शादी एक ऐसा बन्धन है, जिससे आगे का जीवन सही तरीके से चलता है। वहीं अगर जीवन साथी ऐसा हो कि शादी के बन्धन में बंधने के साथ साथ उसकी सांसो की डोरी भी बंध जाये। कुछ ऐसा ही सुनने में आ रहा है। चौमूं के देवथला में जहां पर ब्राह्मण मोहल्ले में रविवार सुबह तबीयत खराब होने से 85 वर्षीय सीताराम शर्मा की मौत हो गई थी, पति के निधन के सदमे में 20 मिनट बाद ही 83 वर्षीय पत्नी भंवरी देवी की भी मौत हो गई। ऐसे में यह प्रतीत होता है कि दोनो में कितना प्रेम था।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि गांव के लोग बताते हैं कि सीताराम शर्मा पहले टाटानगर में काम करते थे और अपने परिवार का भरण पोषण करते थे, पर वृद्धावस्था होने के बाद से गांव में ही रहने लगे थे, ग्रामीणों ने पति-पत्नी के प्रेम की तारीफ करते हुए कहा कि दोनों ही एक-दूसरे का ध्यान रखते थे, दंपती का स्वभाव भी मिलनसार था, देवथला गांव निवासी सीताराम शर्मा का विवाह इटावा भोपजी स्थित गोठवालों की ढाणी निवासी भंवरी देवी शर्मा के साथ करीब 60 वर्ष पहले हुआ था, सीताराम शर्मा और भंवरी देवी के चार बेटे और दो बेटियां है, जिनमें दो बेटे अविवाहित हैं।जिसे सब समझ रहे गाँव की गंवार, वो निकली IPS ऑफिसर

वह एक-दूसरे की भावनाएं बिना कहे ही समझ जाते हैं, यह बात वास्तविक कम और काल्पनिक ज्यादा सुनाई पड़ती है, ऐसा इसलिए क्योंकि पति खुद इस बात की शिकायत करते दिख जाते हैं कि उनकी पत्नियां उम्मीद करती हैं कि उनके कहे बगैर वह बातों को समझ जाएं जो उन्हें फ्रस्टेट कर देता है। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

About Rinku

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *