अस्पताल में भर्ती पति की ज़िन्दगी की डोर छुटने ही वाली थी कि पत्नी ने निशानी के तौर पर माँगा बच्चा, उठाया ये कदम - onlyentertainmentnews
Breaking News
Home / ताज़ा खबरें / अस्पताल में भर्ती पति की ज़िन्दगी की डोर छुटने ही वाली थी कि पत्नी ने निशानी के तौर पर माँगा बच्चा, उठाया ये कदम

अस्पताल में भर्ती पति की ज़िन्दगी की डोर छुटने ही वाली थी कि पत्नी ने निशानी के तौर पर माँगा बच्चा, उठाया ये कदम

मित्रों वैसे तो इस दुनिया में कई ऐसी अजीबो गरीब बाते होती रहती है, जो कि सुनने के पश्‍चात जल्‍द विश्वास नही हो पाता है, कि आखिर यह भी हो सकता है, आस पास की कभी कुछ ऐसी घटनाये हमारे सामने आती है, जो सुनने के पश्‍चात काफी अजीब लगता है। आज हम एक ऐसी ही घटना के संबंध में बात करने वाले है जिसके अनुसार एक शख्स चंद घंटो का महमान था, उस शख्स की पत्नी ने निशानी के रूप में कर दी बच्चे की मांग फिर पत्नी ने उठाया ऐसा कदम जिसे सुन आप लोग के भी उड़ जायेगें के हो-श। खब विस्तार से जानने के लिये इस पोस्ट के अंत तक बने रहे। पति के निधन की खबर सुनते ही पत्नी ने भी त्यागे प्राण, एक साथ उठी दो-दो अर्थी

दरअसल आज हम जिस घटना के संबंध में बात कर रहे है कि वो घटना गुजरात के एक परिवार की है, जो कनेडा में रहता है इस परिवार में आज सिर्फ एक महिला जीवित है, एक खुशहाल परिवार महामारी की वजह से पूरी तरह तबाह हो गया। बता दें कि गुजरती परिवार का बेटा और बहू कनेडा में रहते थे अचानक भारत में बेटे के पिता की तबियत खराब हो जाती है। किसी तरह को-रोना के चलते भी बहू अपने परिवार के पास आती है तभी पता चलता है की बेटे को को-रोना हो गया है और वह अस्पताल में भर्ती है। बहू अकेली क्या-क्या करती लेकिन उसने दोनों तरफ की स्थितियों को संभाला, कुछ दिन बाद अस्पताल से फ़ोन आता है की उनके पति अब कुछ ही दिनों के मेहमान है ऐसे में महिला के पास कोई चारा नहीं था। महिला ने आखिरी निशानी के चलते अस्पताल के स्टाफ से अपने पति का सपर#म माँगा लेकिन उन्होंने मना कर दिया महिला अपने पति से एक बच्चा चाहती थी। आप जानते है हर एक महिला का सपना होता है माँ बनना और अगर वह माँ बन जाए तो इससे बड़ा सुख उसके लिए कोई और नहीं होता है।सड़क किनारे अचार बेचने वाली महिला बनी करोड़ पति, मोदी भी मानते है जलवा

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि जब अस्पताल ने यह करने से मना कर दिया तो महिला कनेडा जा नहीं सकती थी चूँकि उस समय महामारी विकराल रूप ले चुकी थी। इसी बिच महिला ने गुजरात हाईकोर्ट जाकर अपनी बात रखी। महिला ने अपने पति के सपर#म की डिमांड करी उसने कहा की उसके पति के बचने के चांस बहुत कम है लेकिन आज अनेक विज्ञान ने तरक्की कर ली है ऐसे में अगर पति का स्प@म मिल जाता है तो वह उसके बच्चे की माँ बन जायेगी। हाई कोर्ट ने सभी सुनवाइयों को रोककर महिला की बात को सुना और मेडिकल साइंस के जानकारों से राय लेकर यह निर्णय लिया की महिला की यह इच्छा पूरी नहीं की जा सकती है। चूँकि आज तक इस तरह का कृत्य नहीं हुआ है और कोर्ट ने उनकी अर्जी को ख़ारिज कर दिया। आज महिला का पति और ससुर इस दुनिया में नहीं है वह अकेली है और अपने जीवन को जी रही है लेकिन उसकी पति से एक उम्मीद थी वो भी टूट गई और आज वह पूरी तरह से अकेली है। आस-पास की ऐसी ही खबरों के लिए हमें फोलो करें और जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करें। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

About Rinku

Leave a Reply

Your email address will not be published.